Studygyan24

Latest jobs, Upcoming jobs, state jobs, study material, answer key, results, admit card, question papers, current affairs for competitive exams.

Search This Blog

Tuesday, July 30, 2019

कंप्यूटर की पीढ़ियाँ

कंप्यूटर की पीढ़ियाँ 


कंप्यूटर की पीढ़ियां निम्नलिखित है 

प्रथम पीढ़ी (1950 से 1958)


·       कंप्यूटर का आकार बहुत बड़ा होता था
·       वेक्यूम ट्यूब (Vacuum Tubes) का उपयोग |

·       प्रथम पीढ़ी  के प्रमुख कंप्यूटर - ENIAC, EDSAC, EDVAC, MARK II
·       ENIAC -   Electronic Numerical Integrator and Calculator

·       EDVAC- Electronic Discrete Variable Automatic Computer


द्वितीय पीढ़ी (1955 से 1964)

·        ट्रांजिस्टर (Transistor) का उपयोग

·        असेंबली भाषा का प्रयोग।
·        मेमोरी के तौर पर इन में चुंबकीय टेप (Magnetic Storage Devices ) का प्रयोग
·        COBOL (CommonBusiness Oriented Language ) और FORTRON भाषा का विकास


तृतीय पीढ़ी (1965 से 1974)
·        इंटीग्रेटेड सर्किट ( IC - Integrated Circuit) का प्रयोग


·        IC का विकास Jack Belly ने किया 
·        Basic Language का उपयोग हुआ



 चतुर्थ पीढ़ी (1975 से 1989)

·        इस पीढी के कंप्यूटर में VLSI (Very Large Scale Integration) का विकास हुआ
·        इस पीढ़ी के कंप्यूटर में माइक्रो प्रोसेसर (Micro Processor ) का प्रयोग हुआ ।.

माइक्रो प्रोसेसर (Micro Processor)
Processor एक  की चिप  होती है जो मोबाइल और कंप्यूटर में लगी होती है।  यह कंप्यूटर का प्रमुख अंग होती है।
                          Processor हमारे  बीच और कंप्यूटर के बीच होने वाली गतिविधियों को समझता है, तब जाकर कंप्यूटर ही हमारे द्वारा दी गयी कमांड या निर्देश को समझ पाता है और उस कार्य को कर  पाता है।


Processor का मात्रक - गीगाहर्ट्स (Ghz) होता है।  
प्रोसेसर के उदाहरण – Intel, Qualcomm, Snapdragon, NVIDIA Graphics, AMD, Mideatek Processor.

·        Software में GUI यानि Graphical User Interface  का विकास होने लगा

·        Graphics:-  डाटा को चित्रात्मक यानि इमेज के रूप में दिखाने को ही कंप्यूटर ग्राफिक्स कहते हैं

पांचवी पीढ़ी (1990 से अभी तक):-

·         इस पीढ़ी के कंप्यूटर में ULSI (Ultra Large Scale Integration) का उपयोग होने लगा
VLSI के बड़े रूप को ही ULSI कहा जाता है

 ध्यान रहे:-
भारत का प्रथम सुपर कंप्यूटर परम था जो C-DAC कंपनी ने बनाया

            कंप्यूटर का वर्गीकरण

Analog Computer:-   यह वह कंप्यूटर होते हैं जो आँकडो या डाटा पर कार्य करते हुए भौतिक रूप से कार्य करते हैं  अर्थात इनमें भौतिक इकाइयों को सीधे ही कंप्यूटर में डालते है


जैसे:- तापमान, दबाव, आयतन, वोल्टेज तथा वजन आदि। 



Digital Computer:-
 यह कंप्यूटर आधुनिक समय के कंप्यूटर है यह डिजिटल नंबर पर कार्य करते हैं तथा 0 और 1 के रूप में कार्य करते हैं


Hybrid Computer:-
 यह कम्प्यूटर Analog और Digital Computer दोनों का मिला जुला रुप है।


 महत्वपूर्ण :-
 विश्व का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर "तेन्हाये2 है जिसे चीन ने विकसित किया



पामटाप (Plamtop) :-
 यह बहुत छोटा कंप्यूटर होता है जिसे हाथ पर रखकर कार्य कर सकते हैं इसे मिनी लैपटॉप भी कहते हैं


पंच कार्ड:-
पंच कार्ड एक तरह से कठोर पन्नों से बना हुआ कार्ड होता है जिसमे हम डिजिटल डाटा को रखते हैं। इनमे जगह जगह कुछ छेद भी होते हैं जिनकी मदद से यह कार्ड डाटा को रखता है।
पंच कार्ड का अविष्कार हर्मन हॉलिरथ ने किया |






 MODAL PAPER (STUDYGYAN24)







No comments:

Post a Comment

About Me

My photo
AJMER, RAJASTHAN, RAJASTHAN, India
I AM A STUDENT AND I AM PROVIDE ALL RELATED NEWS OF STUDY FOR STUDENT

Recommended Article